Don't settle, keep the battle on.

तू है बेमिसाल

Don't settle, keep the battle on. तू है बेमिसाल

कोई किसी से कम नहीं,

मत सोच के तुझमें दम नहीं |

तेरा साहस अपार,

तू है बेमिसाल ||

*

क्यों सोचे तुझमें वो बात नहीं,

कुछ करने की औकात नहीं |

क्यों दिमाग पर इतना जोर धरे,

सोच सोच के सीने में बोझ करे ||

*

क्या हुआ जो सपना टूट गया,

शायद इसीलिए वो छूट गया |

न कोई कमी उसमें कभी,
न कोई कमी तुझमें अभी ||
*
तू अप्रतिम, तू शानदार,
तू है प्रकृति का अलग आकार |
जो बीत गई वो बात गई,
भूल उसे जो रात गई ||
*
देख नया सवेरा आया है,
सबके लिए कुछ लाया है |
तू भी खोज एक अपनी राह,
अब बना तू अपनी भी एक चाह ||

Leave a comment

Your email address will not be published.

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)