What to Write. Motivational Words

क्या लिखूं – हकीकत ?

What to Write. Motivational Words

सपनों में रंगी स्याही से हकीकत लिख दूँ,

कुछ ऐसा बनूँ जो शब्द दूँ तो नसीहत लिख दूँ |

काश उस खुदा की मेरे शब्दों में बरकत हो,

जो लिखने पे आऊं किसी मरीज की तबीयत लिख दूँ ||

 

सपनों में रंगी स्याही से हकीकत लिख दूँ, कुछ ऐसा बनूँ जो शब्द दूँ तो नसीहत लिख दूँ | Click To Tweet

 

माना तुच्छ हूँ मैं उच्च नहीं, ज्यों घड़ा कोई कच्ची मिटटी का,

न समझो कि मैं कुछ नहीं, मैं बीज उभरता धरती का,

नाजुक सा हूँ, मैं सख्त भी, मैं जटिल सोच का मालिक हूँ,

करे नजरअन्दाज तो अच्छा जो अन्दाजा कर न सके इस हस्ती का ||

*

थोड़ा धीमा हूँ पर रुका नहीं, गर थक भी गया मैं झुका नहीं,

मैं चिर सम्भाले मन को अपने, माल कोई भी फूँका नहीं |

मैं कहु बात बेबाकी से तो प्रश्न खड़े हो जाते हैं,

और कह के बात मैं वपिस लूँ, शब्दों को ऐसे थूका नहीं ||

Leave a comment

Your email address will not be published.

2 thoughts on “क्या लिखूं – हकीकत ?”

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)